Home » Shayari in Hindi » 2 Line Shayari in Hindi

2 Line Shayari in Hindi

दिन में काम नहीं सोने देता रात में एक नाम नहीं सोने देता
दिन में काम नहीं सोने देता
रात में एक नाम नहीं सोने देता



 उम्र कटी दो अल्फ़ाज़ में एक आस में एक काश में
यूँ उम्र कटी दो अल्फ़ाज़ में
एक आस में एक काश में



एक उम्र थी जादू पर भी यकीन था
एक उम्र थी जादू पर भी यकीन था
एक उम्र ये है हकीकत पर भी शक होता है



 लिया मुझे तूफ़ाँ की मौज ने वरना
बचा लिया मुझे तूफ़ाँ की मौज ने वरना
किनारे वाले नाव मेरी डुबो देते



हम समंदर हैं हमें खामोश ही रहने दो
हम समंदर हैं हमें खामोश ही रहने दो
ज़रा मचल गये तो शहर ले डूबेंगे



शायरों की बस्ती में कदम रखा तो जाना
शायरों की बस्ती में कदम रखा तो जाना
गमों की महफिल भी कमाल जमती है



उड़ने दो मिट्टी कहां तक जाएगी
उड़ने दो मिट्टी कहां तक जाएगी
हवा का साथ छूटेगा फिर जमीन पर ही आएगी



फुरसत में ही याद कर लिया करो हमें
फुरसत में ही याद कर लिया करो हमें
दो पल मांगते हैं पूरी जिंदगी तो नहीं



सुनने वाला ही न सुन पाए तो ये बात अलग है
सुनने वाला ही न सुन पाए तो ये बात अलग है
वरना सन्नाटे भी आवाज़ दिया करते हैं



तुम तस्वीरें बदलो मैं तारीफ के तरीके
तुम तस्वीरें बदलो
मैं तारीफ के तरीके



फितूर होता है हर उम्र में जुदा जुदा
फितूर होता है हर उम्र में जुदा जुदा
खिलौना माशूका रुतबा और फिर खुदा



ख्वाहिशों ने सिखाया कि मचलना कैसे है
ख्वाहिशों ने सिखाया कि मचलना कैसे है
तो हकीकत ने सिखाया चुप रहकर जीना कैसे है



रूह का सकून है इश्क शर्त है सही इंसान से हो
रूह का सकून है इश्क
शर्त है सही इंसान से हो



अब तो रिहा कर दो अपने ख्यालों से मुझको
अब तो रिहा कर दो अपने ख्यालों से मुझको
लोग कहने लगे है कहां रहते हो आजकल



कौन समझ पाया है आज तक हमें
कौन समझ पाया है आज तक हमें
हम अपने हादसों के इकलौते गवाह है