Home » Shayari in Hindi » Sad Shayari in Hindi

Sad Shayari in Hindi

तेरी जरूरत तेरा इंतज़ार और ये कशमकश
तेरी जरूरत तेरा इंतज़ार और ये कशमकश
थक कर मुस्कुरा देते हैं हम जब रो नही पाते



अदब से झुकना मेरी फितरत में शामिल था
अदब से झुकना मेरी फितरत में शामिल था
मगर हम क्या झुके लोग तो खुदा ही हो गए



कौन था वो जिसने ये हाल किया है मेरा
कौन था वो जिसने ये हाल किया है मेरा
किसको इतनी आसानी से हासिल था मैं



उसके हाथ की गिरफ्त ढीली पड़ी तो महसूस हुआ मुझे
उसके हाथ की गिरफ्त ढीली पड़ी
तो महसूस हुआ मुझे
शायद ये वही जगह है
जहाँ रास्ते बदलने हैं



माना कि तेरी नजर में कुछ नहीं हूं मैं
माना कि तेरी नजर में कुछ नहीं हूं मैं
मेरी कदर उनसे पूछ
जिनको पलट कर नहीं देखा
मैंने सिर्फ तेरे लिए



बरसों बाद मिला तो पूछने लगे कि तुम कौन हो
बरसों बाद मिला तो पूछने लगे
कि तुम कौन हो
बिछड़ते वक़्त जिसने कहा था
कि तुम बहुत याद आओगे



दुआएं मिल जाए यही काफी है
दुआएं मिल जाए यही काफी है
दवाये तो कीमत अदा करने पर मिल ही जाती है



दूरियाँ सिखाती है कि नजदीकियाँ क्या होती
कितनी अजीब बात है
दूरियाँ सिखाती है कि नजदीकियाँ क्या होती



जी तो चाहता है बहुत कि उसे अपने दिल में छुपा लूं
जी तो चाहता है बहुत
कि उसे अपने दिल में छुपा लूं
मगर ना वक़्त ने इजाज़त दी
और ना कभी उसने



तुम भी किसीसे ये मत कहना कि
तुम भी किसीसे ये मत कहना कि
तुमने मुझे भुला दिया
मैं आज भी लोगों से कहता फिरता हूं कि
वक्त नहीं मिलता तुमको



फासला इतना है कि उसको देख भी नहीं सकता
फासला इतना है कि
उसको देख भी नहीं सकता
और इतनी करीब है कि
रग रग में बसती है



तेरी यादों को कैसे Block करूं दिल में यह Option ही नहीं है
तेरी यादों को कैसे Block करूं
दिल में यह Option ही नहीं है



तुम्हें तो ठीक से बर्बाद करना भी नहीं आता
तुम्हें तो ठीक से बर्बाद करना भी नहीं आता
चलो पीछे हटो अपनी ये हालत मैं बनाता हूँ



लफ़्ज़ों की दहलीज पर घायल जुबान है
लफ़्ज़ों की दहलीज पर घायल जुबान है
कोई तन्हाई से तो कोई महफ़िल से परेशान है



दिल जब टूटता है तो आवाज नहीं आती
दिल जब टूटता है तो आवाज नहीं आती
हर किसी को मुहब्बत रास नहीं आती
ये तो अपने अपने नसीब की बात है
कोई भूलता नहीं और किसी को याद भी नहीं आती